News Flash: समाचार फ़्लैश:
  • राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने भारतीय लेखापरीक्षा एवं लेखा सेवाएं प्रशिक्षुओं को पुरस्कृत किया
  • राज्य एकल खिड़की स्वीकृति एवं अनुश्रवण प्राधिकरण ने 947.47 करोड़ रुपये निवेश के प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की
  • मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र के लिए 172.10 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
  • मुख्यमंत्री ने की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रिवालसर को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा, पुलिस चैकी रिवालसर का दर्जा बढ़ाकर पुलिस थाना किया
  • मुख्यमंत्री ने केंद्र से रोपवे और परिवहन के अपरंपरागत तरीकों पर जीएसटी घटाने का आग्रह किया
  • विश्व बैंक और आर्थिक मामले विभाग ने प्रदेश को 1168 करोड़ की वित्तीय सहायता समैझोते को मंजूरी दी
View Allसभी देखें
 Latest News
 नवीनतम समाचार
  • मुख्यमंत्री ने की सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रिवालसर को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा, पुलिस चैकी रिवालसर का दर्जा बढ़ाकर पुलिस थाना किया
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज बल्ह विधानसभा क्षेत्र के रिवालसर में एक भारी जनसभा संबोधित करते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र रिवालसर को स्तरोन्नत कर इसे नागरिक अस्पताल बनाने, रिवालसर में अग्निशमन उप-केंद्र खोलने, पुलिस चैकी रिवालसर को स्तरोन्नत कर पुलिस थाना बनाने, दुर्गापुर में पशु अस्पताल खोलने, क्षेत्र में हेलीपैड का निर्माण करने, कलखर से रत्ती सड़क मार्ग के उन्नयन के लिए दो करोड़ रुपये प्रदान करने तथा सुन्दरनगर से बटाहन के लिए बस सेवा प्रारम्भ करने की घोषणा की।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि बल्ह विधानसभा क्षेत्र में आज 251 करोड़ रुपये की लागत की 27 विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए गए जो कि प्रदेश सरकार द्वारा इस क्षेत्र के समुचित विकास की प्रतिबद्धता को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि रिवालसर पर्यटन एवं धार्मिक दृष्टि से एक महत्त्वपूर्ण स्थल है। यह क्षेत्र हिन्दू, सिक्ख और बौद्ध धर्मावलम्बियों की आस्था का केंद्र है। प्रदेश सरकार पर्यटन की दृष्टि से इस क्षेत्र को विकसित करने के लिए कृत संकल्प है।
     
     जय राम ठाकुर ने कहा कि रिवालसर की आंशिक रूप से सम्मिलित आबादी के लिए 44 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल योजना, जिसका शिलान्यास आज किया गया, इस क्षेत्र की बरसों से चली आ रही पेयजल समस्या को हल करने में सहायक सिद्ध होगी। उन्होंने कहा कि बैहना में एनडीआरएफ बटालियन की स्थापना की जा रही है, जिससे किसी भी प्राकृतिक आपदा की स्थिति में प्रदेश के लोगों को त्वरित सहायता उपलब्ध करवाई जा सकेगी। उन्होंने कहा कि अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डा के निर्माण से बल्ह क्षेत्र अन्तरराष्ट्रीय पर्यटन मानचित्र पर उभर कर सामने आएगा।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि कोविड महामारी ने पूरे विश्व में विकासात्मक गतिविधियों को बुरी तरह से प्रभावित किया है परन्तु इस संकट के बावजूद प्रदेश सरकार ने यह सुनिश्चित किया है कि राज्य में कोई भी व्यक्ति आॅक्सीजन एवं दवाओं इत्यादि की कमी के कारण उपचार से वंचित न रहने पाए। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा इस महामारी से निपटने के लिए उठाए गए कदमों को केंद्र स्तर पर भी सराहा गया है। राज्य ने 18 वर्ष से अधिक आयु वर्ग को कोविड टीकाकरण की पहली खुराक लगाने का शत-प्रतिशत लक्ष्य प्राप्त किया है जिसके लिए प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने प्रदेश सरकार के प्रयासों की सराहना की है और वर्चुअल माध्यम से प्रदेश के कोरोना वारियर्स से संवाद स्थापित कर उनका उत्साहवर्धन भी किया है। उन्होंने कहा कि पूर्व सरकार ने प्रदेश में स्वास्थ्य क्षेत्र में आधारभूत संरचना के सुदृढ़ीकरण के लिए कुछ भी नहीं किया। उन्होंने लोगों से आग्रह किया कि वे राज्य सरकार को अपना पूर्ण समर्थन बनाए रखंे ताकि विकास की यह प्रक्रिया निर्बाध रूप से जारी रखी जा सके।
     
    इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने चैकी चन्द्राहन-कोठी गहरी सड़क के अन्तर्गत  गम्भर खड्ड पर एक करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 25 मीटर लंबे स्पैन पुल, पांच करोड़ रुपये की लागत से निर्मित राजकीय महाविद्यालय रिवालसर के भवन, चार करोड़ 39 लाख रुपये की लागत से निर्मित गुरूकोठा-घडै़तर सड़क, 3.08 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित रोपड़ी-खुड्डी सड़क, 5.07 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित रिवालसर-पिंगला-थौना-धर्मपुर सड़क, नौ करोड़ 12 लाख रुपये की लागत से आंवला गलू-गडियातर सड़क, एक करोड़ रुपये की लागत से निर्मित विद्युत उप-केंद्र रिवालसर के भवन और मंडी-रिवालसर-कलखर सड़क के अन्तर्गत गम्भर खड्ड पर तीन करोड़ 53 लाख रुपये की लागत से निर्मित 55 मीटर  लम्बे स्पैन पुल का लोकार्पण किया।
     
    मुख्यमंत्री ने रिवालसर क्षेत्र की आंशिक रूप से सम्मिलित बस्तियों के लिए 44 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से निर्मित होने वाली उठाऊ पेयजल आपूर्ति योजना का शिलान्यास तथा दो करोड़ 75 लाख रुपये की लागत से निर्मित होने वाले घौड़नाला से छजवाहन सड़क मार्ग का भूमि पूजन भी किया।
     
    स्थानीय विधायक इंद्र सिंह गांधी ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया और क्षेत्र से संबंधित विभिन्न मांगों का ब्यौरा दिया। उन्होंने मुख्यमंत्री से रिवालसर में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान और अग्निशमन उप-केंद्र स्थापित करने का आग्रह किया।
     
     जिला परिषद सदस्य एवं जिला भाजपा महामंत्री प्रियंता शर्मा ने मुख्यमंत्री एवं अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया और क्षेत्र से संबंधित मांगें रखीं।
     
     इस अवसर पर जल शक्ति मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर सरकाघाट के विधायक कर्नल इंद्र सिंह, नाचन के विधायक विनोद कुमार और द्रंग के विधायक जवाहर ठाकुर, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, उपायुक्त अरिंदम चैधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता अजय गुप्ता सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति उपस्थित थे।
     
    .0.
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र के लिए 172.10 करोड़ रुपये की परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए
     
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मंडी जिले के बल्ह विधानसभा क्षेत्र के गागल में क्षेत्र के लिए 172.10 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए।
     
    मुख्यमंत्री ने गागल में एक विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए नेरचैक में हिमाचल  प्रदेश राज्य बिजली बोर्ड का मंडल स्थापित करने, बल्ह विधानसभा क्षेत्र में एक अटल आदर्श विद्यालय खोलने, प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र गागल को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने, स्योहली और सकरोहा ग्राम पंचायतों में पशु औषधालय खोलने, स्वास्थ्य उप केंद्र राजगढ़ को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र में स्तरोन्नत करने, राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भंगरोटू में विज्ञान कक्षाएं शुरू करने और शहीद सैनिक पुष्पराज के सम्मान में राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घासणू का नाम बदलकर शहीद नायक पुष्पराज राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला घासणू रखने की घोषणा की।
     
     जय राम ठाकुर ने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में 14 नवगठित ग्राम पंचायतों में पंचायत भवनों के निर्माण के लिए प्रत्येक भवन के लिए 10 लाख रुपये और राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला पैड़ी में स्टेडियम/मैदान के निर्माण के लिए 10 लाख रुपये देने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बल्ह मंे एनसीसी अकादमी की स्थापना से संबंधित मामला उपयुक्त प्राधिकारी के समक्ष उठाया जाएगा। उन्होंने समारोह में भाग लेने वाले प्रत्येक महिला मंडल को अपनी ऐच्छिक निधि से प्रत्येक को 10 हजार रुपये प्रदान करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि बैहना सड़क को डबल लेन बनाने से संबंधित मामला सीआरएफ के समक्ष रखा जाएगा।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश सरकार ने हमेशा बल्ह क्षेत्र के विकास पर विशेष ध्यान दिया है। आज क्षेत्र के एक दिवसीय दौरे के दौरान उन्होंने 291.04 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं के लोकार्पण और शिलान्यास किए हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में भाजपा सरकार के कार्यकाल के दौरान ही बल्ह क्षेत्र में चिकित्सा महाविद्यालय स्थापित करने का निर्णय लिया गया क्योंकि कांगड़ा जिला के पश्चात् मंडी प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा जिला है।
     
    जय राम ठाकुर ने कहा कि बल्ह में अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के लिए ओएलएस सर्वेक्षण पूरा कर लिया गया है और शीघ्र ही लिडार सर्वेक्षण भी पूरा कर लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश में विश्वस्तरीय हवाई अड्डे का मार्ग प्रशस्त होगा और 15वें वित्त आयोग ने भी इस हवाई अड्डे के निर्माण के लिए 1000 करोड़ रुपये देने की सिफारिश की है। इसी प्रकार, बैहना मंे एनडीआरएफ बटालियन स्थापित करने का श्रेय भी वर्तमान सरकार को जाता है क्योंकि केंद्र सरकार के समक्ष इस मामले को प्रमुखता से उठाया गया था।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि वह जब भी दिल्ली का दौरा करते हैं, केंद्रीय नेतृत्व के समक्ष हिमाचल प्रदेश से संबंधित मामलों को प्रमुखता से उठाते हैं। प्रदेशवासी भाग्यशाली है कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का प्रदेश और प्रदेशवासियों के प्रति विशेष स्नेह और लगाव है। बल्ह विधानसभा क्षेत्र में नाबार्ड के अन्तर्गत 45 करोड़ रुपये से अधिक की परियोजनाओं को स्वीकृति प्रदान कर उनका क्रियान्वयन किया जा रहा है।
     
    जय राम ठाकुर ने वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा शुरू की गई विभिन्न विकासात्मक और कल्याणकारी योजनाओं के बारे में भी विस्तृत जानकारी दी। उन्होंने कहा कि गृहिणी सुविधा योजना, हिम केयर, सहारा योजना, सामाजिक सुरक्षा पैंशन, शगुन योजना ने समाज के प्रत्येक वर्ग का कल्याण सुनिश्चित किया है।
     
    इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने 1.22 करोड़ रुपये की लागत से बाग से रठोल सड़क, 1.32 करोड़ रुपये की लागत से मोहटला से करेहड़ी सड़क, 1.58 करोड़ रुपये की लागत से नागचला से चकराड़ी सड़क, 1.92 करोड़ रुपये की लागत से तरनोह उनाद कांडी नलवाड़ी रोपा पारगी देवरी बाल्ट महोटला हरानवली देव से कमेहरा मथोग खखरियाना सड़क, 23 लाख रुपये की लागत से निर्मित राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला मुन्दडू के भवन, एक करोड़ रुपये की लागत से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला गागल के भवन, 1.23 करोड़ रुपये की लागत से राजकीय वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला राजगढ़ की विज्ञान प्रयोगशाला और 5 करोड़ रुपये की लागत से ऊना-जाहू-भांबला सड़क मार्ग पर गलमा खड्ड पर निर्मित पुल का लोकार्पण किया।
     
    मुख्यमंत्री ने 1.50 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाले लोक निर्माण विभाग के मंडल कार्यालय भवन नेरचैक, 10.25 करोड़ रुपये की लागत से बल्ह में बनने वाले राजकीय औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान के भवन, 2.21 करोड़ रुपये की लागत से मुन्दडू-ट्रोह-दयोन-बडबाहण सड़क पर रत्ती खड्ड पर निर्मित होने वाले 40 मीटर लंबे पुल, 86 करोड़ रुपये की लागत से नेरचैक शहर के लिए मल निकासी योजना, 4.57 करोड़ रुपये की लागत से घरान, पिपली, कुथाड़ी और रठोआ के लिए उठाऊ जलापूर्ति योजना, 26 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले जिला मंडी जेल भवन, 22.40 करोड़ रुपये की लागत से पुलिस संचार और तकनीकी सेवा निदेशालय केंद्र भंगरोटू का शिलान्यास किया। उन्होंने 2.17 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र और 3.52 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाले टांडा-कोहला-टिक्करी-क्वालकोट-सिद्धकोठी सड़क का भूमि पूजन भी किया।
     
    इस अवसर पर विभिन्न सामाजिक, सांस्कृतिक, धार्मिक और राजनीतिक संगठनों ने मुख्यमंत्री को सम्मानित किया। बल्ह विधानसभा क्षेत्र में ढांगू हेलीपैड से लेकर गागल तक क्षेत्र के लोगों द्वारा मुख्यमंत्री का गर्मजोशी से स्वागत किया। 
     
    जल शक्ति मंत्री महेंद्र सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के कुशल नेतृत्व में राज्य का संतुलित व सम्मान विकास सुनिचित किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि बल्ह विधानसभा क्षेत्र में एनडीआरएफ बटालियन स्थापित की जा रही है, इसका श्रेय भी मुख्यमंत्री को जाता है। उन्होंने बल्ह विधानसभा क्षेत्र में चिकित्सा महाविद्यालय और चिकित्सा विश्वविद्यालय की स्थापना का श्रेय भाजपा सरकार को दिया। उन्होंने कहा कि नेरचैक के लिए 86 करोड़ रुपये की मल निकासी योजना भी स्वीकृत की गई है। उन्होंने प्रदेश के लोगों को बधाई देते हुए कहा कि एक स्वतंत्र एजेंसी द्वारा किए गए एक सर्वेक्षण में जय राम ठाकुर को देश का सर्वश्रेष्ठ मुख्यमंत्री चुना गया है।
     
    विधायक इंद्र सिंह गांधी ने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगों की जानकारी दी। उन्होंने कहा कि बल्ह विधानसभा क्षेत्र में अनेक विकासात्मक परियोजनाएं कार्यान्वित की जा रहीं हैं और विकास की गति तेज हुई है जिसका मुख्यमंत्री को जाता है। उन्होंने अपने निर्वाचन क्षेत्र में 14 नई पंचायतों का गठन करने के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। 
     
     भाजपा मंडलाध्यक्ष हेम पाल राणा ने क्षेत्र के लिए अनेक विकासात्मक परियोजनाएं समर्पित करने के लिए मुख्यमंत्री का अभार व्यक्त किया।
     
    विधायक कर्नल इंद्र सिंह, विनोद कुमार व जवाहर लाल ठाकुर, मिल्कफेड के अध्यक्ष निहाल चंद शर्मा, जिला परिषद् अध्यक्ष पाल वर्मा, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, उपायुक्त अरिंदम चैधरी, पुलिस अधीक्षक शालिनी अग्निहोत्री, लोक निर्माण विभाग के मुख्य अभियंता अजय गुप्ता सहित अन्य इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
    .0.
    Read More
  • राज्य एकल खिड़की स्वीकृति एवं अनुश्रवण प्राधिकरण ने 947.47 करोड़ रुपये निवेश के प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की
     
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर की अध्यक्षता में आज यहां आयोजित राज्य एकल खिड़की स्वीकृति एवं अनुश्रवण प्राधिकरण की 19वीं बैठक आयोजित की गई। बैठक में नए औद्योगिक उद्यम स्थापित करने और वर्तमान इकाइयों के विस्तार की आठ परियोजना प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की गई। इन प्रस्तावों पर लगभग 947.47 करोड़ रुपये का निवेश प्रस्तावित है और लगभग 4442 व्यक्तियों को रोजगार के अवसर प्राप्त होंगे। इससे यह प्रदर्शित होता है कि आर्थिकी मंदी के बावजूद राज्य निवेश को निरन्तर आकर्षित कर रहा है।
     
    प्राधिकरण द्वारा स्वीकृत नए प्रस्तावों में आॅटो पार्ट्स के निर्माण करने के लिए मैसर्स इंडो फर्म इक्विपमेंट लिमिटेड गांव मलकुमाजरा तहसील बद्दी जिला सोलन, मफलर, सबैसी, बीएस-प्ट कम्र्फोट इत्यादि के निर्माण करने के लिए मैसर्ज संधार टेक्नोलाॅजी लिमिटेड ग्राम बागबनिया, तहसील नालागढ़, जिला सोलन, प्रसंस्कृत मांस के निर्माण के लिए मेसर्स शालीमार हैचरी लिमिटेड, औद्योगिक क्षेत्र, पंडोगा, जिला ऊना के प्रस्तावों को अनुमति प्रदान की।
     
     प्राधिकरण ने परफ्यूम, साबुन, शैम्पू, क्रीम, हैंड सैनिटाइजर इत्यादि के निर्माण के मैसर्स आईटीसी लिमिटेड, मानपुरा, तहसील बद्दी, जिला सोलन, टैबलेट, कैप्सूल, ड्राई सिरप, ड्राई इंजेक्शन, ओरल लिक्विड के निर्माण के लिए मैसर्स इनोवा कैपटेब लिमिटेड, झाड़माजरी, बद्दी, जिला सोलन, स्पैन्डेक्स यार्न के निर्माण के लिए मेसर्स इंडोरमा इंडस्ट्रीज लिमिटेड, लोधीमाजरा, बद्दी, जिला सोलन, पैट बोतल और जार के निर्माण के लिए मैसर्स इनोवेटिव टेक पैक लिमिटेड, इंडस्ट्रियल एरिया डेवनी, बद्दी, जिला सोलन, वायल एम्पाउल इंजेक्शन के निर्माण के लिए मैसर्स बी.ई. फार्मास्युटिकल्स प्राइवेट लिमिटेड, निहालगढ़, तहसील पांवटा साहिब, जिला सिरमौर के विस्तार प्रस्तावों को स्वीकृति प्रदान की।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि ग्राउंडब्रेकिंग समारोह की तैयारियों में तेजी लाई जाएगी ताकि शीघ्र ही इसका आयोजन किया जा सके।
     
    उद्योग मंत्री बिक्रम ठाकुर ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए अधिकारियों को उद्योगपतियों के विभिन्न प्रस्तावों में तेजी लाने के निर्देश दिए ताकि शीघ्र ही इकाइयां स्थापित की जा सकें।
     
    निदेशक उद्योग राकेश प्रजापति ने बैठक का संचालन किया।
     
    अतिरिक्त मुख्य सचिव उद्योग आर.डी. धीमान, प्रधान सचिव ओंकार चंद शर्मा, विशेष सचिव आबकारी एवं कराधान निवेदिता नेगी और राज्य सरकार के अन्य वरिष्ठ अधिकारी बैठक में उपस्थित थे।
     
    .0.
    Read More
  • राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द ने भारतीय लेखापरीक्षा एवं लेखा सेवाएं प्रशिक्षुओं को पुरस्कृत किया
     
     
    भारत के राष्ट्रपति राम नाथ कोविन्द आज शिमला में राष्ट्रीय लेखा परीक्षा तथा लेखा अकादमी द्वारा आयोजित भारतीय लेखा परीक्षा एवं लेखा सेवाएं बैच 2018 और 2019 के प्रशिक्षु अधिकारियोें के विदाई समारोह के अवसर पर मुख्यातिथि के रूप में शामिल हुए।
     
    इस अवसर पर राष्ट्रपति ने मेधावी प्रशिक्षु अधिकारियों को पद्क प्रदान किए।
     
    भारत की प्रथम महिला सविता कोविन्द, राज्यपाल राजेन्द्र विश्वनाथ आर्लेकर, मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
    भारत के नियंत्रक एवं महालेखापरीक्षक गिरीश चन्द्रा मुरमू ने राष्ट्रपति, राज्यपाल और मुख्यमंत्री का स्वागत किया।
     
    राष्ट्रीय लेखा परीक्षा तथा लेखा अकादमी के महानिदेशक सुनील एस. दाढे ने अकादमी की विभिन्न गतिविधियों के बारे मंे विस्तृत जानकारी दी।
     
    मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, पुलिस महानिदेशक संजय कुडू और अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
             -0-
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने हिमाचल प्रदेश के पिछले 50 वर्षों की उपलब्धियों के दस्तावेज बनाने पर बल दिया
     
     
    हिमाचल प्रदेश के पूर्ण राज्यत्व के स्वर्ण जयंती समारोह के ऐतिहासिक अवसर पर आज विधानसभा पुस्तकालय कक्ष में मंत्रियों, सांसदों, विधायकों, पूर्व सांसदों और पूर्व विधायकों के सम्मान में एक समारोह का आयोजन किया गया।
     
    समारोह को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने राज्य की विकास यात्रा में सभी प्रदेशवासियों के महत्वपूर्ण योगदान के लिए उनका आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि प्रदेश की गौरवशाली विकास यात्रा उपलब्धियों से भरी हुई है। उन्होंने कहा कि यह हमारा कर्तव्य बनता है कि राज्य की इस विकासात्मक यात्रा के बारे में नई पीढ़ी को शिक्षित किया जाए। उन्होंने कहा कि इस उद्देश्य की पूर्ति के लिए राज्य ने अपनी 50 वर्षों की विकासात्मक यात्रा को प्रदर्शित करने के लिए राज्य के प्रमुख विभागों द्वारा 51 कार्यक्रम आयोजित करने की योेजना बनाई थी, लेकिन कोरोना महामारी के कारण यह सम्भव नहीं हो पाया। अब प्रदेश सरकार ने राज्य की विकासात्मक यात्रा को प्रदर्शित करने के लिए स्वर्णिम हिमाचल रथ यात्रा आयोजित करने की योजना बनाई है।
     
    मुख्यमंत्री ने कहा कि पिछले 50 वर्षों की उपलब्धियों के लिखित दस्तावेज बनाए जाने चाहिए ताकि आने वाली पीढि़यों को राज्य की इस महत्वपूर्ण यात्रा की जानकारी प्राप्त करने का अवसर मिल सके। उन्होंने राज्य के लोगों से हिमाचल को देश का सबसे विकसित राज्य बनाने के लिए प्रदेश सरकार को पूर्ण सहयोग और समर्थन देने का भी आग्रह किया।
     
    मुख्यमंत्री ने प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्रियों स्वर्गीय डाॅ. यशवन्त सिंह परमार, राम लाल ठाकुर और वीरभद्र सिंह को श्रद्धांजलि अर्पित की। उन्होंने प्रदेश के विकास में महत्वपूर्ण योगदान के लिए पूर्व मुख्यमंत्रियों शांता कुमार और प्रो. प्रेम कुमार धूमल का भी आभार व्यक्त किया।
     
    केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण, युवा कार्य एवं खेल मंत्री अनुराग सिंह ठाकुर ने प्रदेश विधानसभा के सभी वर्तमान और पूर्व सदस्यों के योगदान की सराहना की। उन्होंने दूरदर्शन के अधिकारियों को प्रदेश के 50 वर्षों के गौरवशाली इतिहास पर वृत्तचित्र तैयार करने को कहा।
     
    नेता प्रतिपक्ष मुकेश अग्निहोत्री ने कहा कि प्रदेश को अलग पहचान और आकार प्रदान करने में प्रदेश के पहले मुख्यमंत्री डाॅ. यशवन्त सिंह परमार की महत्वपूर्ण भूमिका रही है, जिससे राज्य के सभी लोगों को स्वयं की पहचान बनाने का अवसर प्राप्त हुआ। उन्होंने कहा कि हिमाचल को प्रगति और समृद्धि के पथ पर आगे बढ़ाने में इसके पश्चात के सभी मुख्यमंत्रियों का भी अमूल्य योगदान रहा है।
     
    संसदीय कार्य मामले मंत्री सुरेश भारद्वाज ने कहा कि हिमाचल प्रदेश 25 जनवरी, 1971 को भारतीय संघ के 18वंे राज्य के रूप में अस्तित्व में आया। उन्होंने कहा कि तब से राज्य ने सभी क्षेत्रों में अभूतपूर्व विकास किया है।  
     
    इस अवसर पर प्रदेश विधानसभा अध्यक्ष विपिन सिंह परमार ने मुख्यमंत्री और अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया। उन्होंने कहा कि हिमाचल प्रदेश ने पिछले 50 वर्षों के दौरान विकास के सभी क्षेत्रों में नए आयाम स्थापित किए हैं। उन्होंने कहा कि लगभग 100 वर्ष पूर्व इसी गरिमामयी सदन में पीठासीन अधिकारियों का सम्मेलन आयोजित हुआ था जो वास्तव में प्रदेश के लोगों के लिए गर्व का क्षण था।
     
    विधानसभा उपाध्यक्ष हंसराज ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया।
     
    मंत्रिगण, सांसदों, विधायकों, पूर्व सांसदों और पूर्व विधायक इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
    .0.
    Read More
  • जय राम ठाकुर ने प्रधानमंत्री को 71वें जन्मदिन पर बधाई दी
     
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज प्रदेशवासियों की ओर से प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को 71वें जन्मदिन पर बधाई दी।
     
    उन्होंने प्रधानमंत्री को जन्मदिवस की शुभकामनाएं देते हुए उनकी दीर्घायु की कामना करते हुए कहा कि उनके सक्षम और गतिशील नेतृत्व में देश प्रगति के मार्ग पर अग्रसर है। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने देश के लोगों विशेषकर समाज के गरीब वर्गांे के लोगों के उत्थान के लिए विभिन्न महत्वाकांक्षी योजनाएं शुरू की हैं ताकि वे सम्मानपूर्वक जीवन-यापन कर सकें।
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर और केन्द्रीय सूचना एवं प्रसारण मंत्री अनुराग ठाकुर ने आज प्रातः कमला नेहरू अस्पताल, शिमला में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के जन्मदिन पर मरीजों को फल और मिठाइयां वितरित कीं।
     
    शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
    .0.
    Read More
Features View All फ़ीचर सभी देखें
Flagship SchemesView Allफ्लैगशिप कार्यक्रम सभी देखें

Latest Video FootageView Allनवीनतम वीडियो फुटेजसभी देखें
Departments Productions View All विभाग प्रोडक्शंससभी देखें
Latest News PhotographsView Allनवीनतम समाचार फोटोसभी देखें
Digital Photo LibraryView All डिजिटल फोटो गैलरीसभी देखें
You Are Visitor No.हमारी वेबसाइट में कुल आगंतुकों 2625683

Nodal Officer: UC Kaundal, Dy. Director (Tech), +919816638550, uttamkaundal@gmail.com

Copyright ©Department of Information & Public Relations, Himachal Pradesh.
Best Viewed In Mozilla Firefox

//