News Flash: समाचार फ़्लैश:
  • eq[;ea=h }kjk lSfudksa dh 'kgknr ij 'kksd O;Dr
  • eaf=;ksa us fd;k cl ;kf=;ksa dh e`R;q ij 'kksd O;Dr
  • ifjogu ea=h us dh rhu eghuksa dh isa'ku ?kks"k.kk
  • vFkZ ,oa lkaf[;dh foHkkx dk nks fnolh; izf'k{k.k f'kfoj vkjEHk
  • ,pih,lvkbZMhlh us jkT; jsMØkWl lkslk;Vh ds fy, fd;k va'knku
  • th,e,l /kkj rjiquw dks fd;k ofj"B ek/;fed ikB'kkyk esa LrjksUur
View Allसभी देखें
 Latest News
 नवीनतम समाचार
  • मुख्यमंत्री ने कुल्लू में रखी विभिन्न विकासात्मक परियोजनाओं की आधारशिलाएं
    मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने कुल्लू जिला की मणिकर्ण घाटी के छाट मे एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए कहा कि कांग्रेस पार्टी के भीतर पार्टी कैडर के उम्मीदवारों के पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होने पर उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। 
    उन्होंने कहा कि पार्टी के भीतर अनुशासनहीनता किसी भी हालत में बर्दाशत नहीं की जाएगी और हम ऐसे लोगों को कांग्रेस पाटी्र से बाहर करने के लिए सक्षम हैं, जो पार्टी विरोधी गतिविधियों में शामिल होकर पार्टी प्रतिष्ठा को धूमिल कर रहे हैं। 
    मुख्यमंत्री ने प्रदेश के लिए स्वीकृत विकासात्मक परियोजनाओं को रोकने के लिए विपक्ष की आलोचना की। उन्होंने कहा कि उन्हें लगता है कि केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री बिलासपुर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान चिकित्सा संस्थान के निर्माण कार्य के लिए तभी सोचेंगे, जब प्रदेश में भाजपा सत्ता में आएगी, परन्तु उनका यह स्वप्न कभी भी पूरा नहीं होगा। राज्य सरकार ने केन्द्रीय मंत्रालय को उनकी इच्छा के अनुसार पर्याप्त भूमि दी है, लेकिन अब इसमें देरी केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से है, जिसका कारण केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्री भलीभांति जानते हैं। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि वह मानते हें कि भाजपा की यह सोच गलत है कि वह प्रदेश में सरकार बनाएंगे, जबकि कई वर्षों तक उनकी प्रदेश में सत्ता वापसी मुश्किल है।
    उन्होंने कहा कि प्रदेश में अब पांच मेडिकल कॉलेज हैं। उन्होंने कहा कि वन स्वीकृति प्राप्त होने के उपरांत मेडिकल कॉलेज हमीरपुर के भवन का कार्य आरम्भ कर दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश में शिक्षा, स्वास्थ्य, कल्याण व अन्य क्षेत्रों में बहुत कुछ किया है, जिसे भाजपा बदार्शत नहीं कर पा रही है और आलोचना कर रही है और भाजपा नेताओं के पास अपने विरोधियों को बदनाम करने के अलावा कोई कार्य नहीं रह गया है। 
    मुख्यमंत्री ने पार्बती नदी पर उप सब्जी मण्डी छाट से पीनी-बनाशा के लिए पुल, बरेहन (चांनी-रवाड) से बिजली महादेव के लिए सड़क के निर्माण की घोषणा की। उन्होंने राजकीय उच्च पाठशाला छाट को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने व राजकीय प्राथमिक पाठशाला बडोगी को माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने, गनाखला में नई राजकीय प्राथमिक पाठशाला खोलने व माध्यमिक पाठशाला कसोल को उच्च पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। 
    मुख्यमंत्री ने बरशैणी, कालरा ग्लेशियर, रूद्र नाग से खीरगंगा के लिए यात्री रज्जू मार्ग के निर्माण के लिए सर्वेक्षण करने का आश्वासन दिया तथा कहा कि कसोल में कांगड़ा केन्द्रीय सहकारी बैंक की शाखा खोलने के लिए जांच पड़ताल की जाएगी।
    उन्होंने कहा कि उप सब्जी मण्डी के विस्तार का समय आ गया है और सरकार इस तरह की विपणन मंडियां प्रत्येक जिले के विभिन्न स्थानों पर खोलेगी, जिससे क्षेत्र के किसानों व बागवानों को अपने उत्पाद के क्रय-विक्रय की सुविधा हो सके। 
    उन्होंने कहा कि कृषि गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए जापान अन्तर्राष्ट्रीय निगम एजेंसी (जीका) के तहत 321 करोड़ रुपये की फसल विविधिकरण योजना कार्यान्वित की जा रही है। डॉ. वाई.एस. परमार किसान स्वरोजगार योजना के अन्तर्गत पॉली हाउस निर्माण के लिए 85 प्रतिशत का अनुदान प्रदान किया जा रहा है। फसलों को जंगली जानवरों से बचाने के लिए खेतों की फेंसिंग के लिए मुख्यमंत्री खेत संरक्षण योजना के अन्तर्गत किसानों को 60 प्रतिशत का अनुदान दिया जा रहा है।
    इससे पूर्व मुख्यमंत्री ने 4.95 करोड़ रुपये की लागत से छरौड़ नाला-बड़ोगी सड़क के स्तरोन्यन व 99 लाख रुपये की लागत की शिलीहार उठाऊ पेयजल योजना का शिलान्यास किया, जिससे क्षेत्र की 2263 जनसंख्या लाभान्वित होगी। उन्होंने छरौड़ नाला से कशाबरी के लिए 4.93 करोड़ रुपये की लागत से स्तरोन्नत होने वाली सड़क की भी आधारशिला रखी।
    मुख्यमंत्री ने चौंग शिलीहार, बराधा, जरी, अरखाली के लिए 2.86 करोड़ रुपये की लागत से बनने वाली उठाऊ पेयजल योजना की आधारशिला भी रखी, जिससे क्षेत्र की 1000 से अधिक जनसंख्या लाभान्वित होगी। 
    इसके उपरांत उन्होंने हॉट सल्फर बाथ की आधारशिला भी रखी, जिसका कार्य हिमाचल प्रदेश पर्यटन विकास निगम द्वारा आरम्भ किया जाएगा। उन्होंने 1.98 करोड़ रुपये की लागत से खराहल के तलोगी, मतराणा व तराड़का के लिए पेयजल आपूर्ति योजना की आधारशिला रखी। उन्होंने 9 करोड़ रुपये की लागत के कोलीबेहड़-काइसधार-बराहार-दोहरा नाला-बरोगी सड़क के सुधार व निर्माण की भी आधारशिला रखी। 
    मुख्यमंत्री ने 2.18 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित लारी-मनारी-देऊधार पेयजल योजना का भी लोकार्पण किया। वहां 7.38 करोड़ रुपये की लागत की केवल चार पेयजल आपूर्ति योजनाएं हैं। मुख्यमंत्री ने छाट में 1.28 करोड़ रुपये की लागत की उप सब्जी मण्डी का भी लोकार्पण किया।
    पूर्व मंत्री श्री सत्य प्रकाश ठाकुर ने मुख्यमंत्री का क्षेत्र के लिए 36 करोड़ रुपये की विकासात्मक परियोजनाओं को लोकार्पित करने के लिए आभार व्यक्त किया। उन्होंने कहा कि उप सब्जी मण्डी से क्षेत्र के नजदीक की पंचायतों के लोग लाभान्वित होंगे और उन्हें अपने फलों व सब्जियों के बेचने की सुविधा उपलब्ध होगी।  उन्होंने राजकीय उच्च पाठशाला शाट को स्तरोन्नत करने व पार्वती नदी पर छाट से दूसरी तरफ पंचायतों को जोड़ने वाले पुल के निर्माण का आग्रह किया। 
    हि.प्र. कांग्रेस समिति के महासचिव श्री सुन्दर सिंह ठाकुर ने भुंतर के रूपी में नए विकास खण्ड सृजित करने के अतिरिक्त कुछ स्कलों को स्तरोन्नत करने का आग्रह किया। उन्होंने कसोल में कांगड़ा केन्द्रीय सहकारी बैंक की शाखा खोलने का भी आग्रह किया। उन्होंने मणिकर्ण-कसोल क्षेत्र को विशेष क्षेत्र विकास प्राधिकरण से बाहर करने का आग्रह किया। उन्होंने कहा कि घाटी के लगभग 250 युवाओं को कौशल विकास निगम योजना के तहत होटल प्रबन्धन का प्रशिक्षण दिया गया है और उन्हें कुल्लू व मणिकर्ण के होटलों में नौकरी भी उपलब्ध करवाई गई है। 
    उन्होंने कहा कि घाटी पर्यटन की दृष्टि से प्रसिद्ध है। उन्होंने बजौरा-कालगा ग्लेशियर-रूद्र नाग-खीरगंगा के लिए रज्जू मार्ग परियोजना का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि स्थानीय विधायक महेश्वर सिंह क्षेत्र में विकास कार्य करवाने में पूरी तरह से असफल रहे हैं। वह केवल लोगों को गुमराह करते रहे हैं।
    वन मंत्री श्री ठाकुर सिंह भरमौरी, हि. प्र. कांग्रेस समिति के सचिव श्री अमित भरमौरी, हि.प्र. कांग्रेस समिति के प्रवक्ता श्री भुवनेश्वर गौड़, एपीएमसी कुल्लू के अध्यक्ष श्री उपेन्द्र कांत मिश्रा, जिला परिषद सदस्य प्रेम लता ठाकुर, जिला कांग्रेस समिति के अध्यक्ष बुद्धि सिंह, जिला महिला कांग्रेस अध्यक्ष विद्या नेगी, ब्लॉक कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री उत्तम शर्मा, होटलियर एसोसियेशन मणिकर्ण के अध्यक्ष श्री किशन ठाकुर व अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने रामशहर में उप सब्जी मण्डी खोलने की घोषणा
     
    मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने आज सोलन जिला के नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के दौरे के दौरान राजकीय प्राथमिक स्कूल मेसी-प्लासी तथा बकौंता को मिडल स्कूल में स्तरोन्नत करने भाटियां में आयुर्वेदिक औषधालय तथा रामशहर में उप सब्जी मण्डी खोलने की घोषणा की। मुख्यमंत्री आज सोलन जिला के नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र के रामशहर में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित कर रहे थे। 
    उन्होंने कहा कि भाजपा उन्हे सत्ता में आने में सबसे बड़ी बाधा मानती हैं तथा इस कारण वह चिंतित हैं। मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा नेताओं को दिन-रात उन्हीं के स्वप्न आते हैं तथा भारी कोशिश के बाबजूद भी वे कभी अपने बुरे उद्देश्यों में सफल नहीं होंगे। उन्होंने कहा कि कुछ केन्द्रीय मंत्रियों के कहने पर राज्य भाजपा नेता उनके खिलाफ तीन केन्द्रीय अनुवेषण एजेंसियों द्वारा आयकर रिर्टन की जांच के मामलों पर लोगों को उनके खिलाफ भड़काने का प्रयास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि उन पर चलाये जा रहे एकमात्र आयकर के मामले में तीन केन्द्रीय अनुवेषण एजेंसियां का जांच करना असंगत है। 
    उन्होंने पार्टी के भीतर छुपे कुछ विश्वासघात व्यक्तियों को भाजपा के साथ गठ-जोड़ करने की कोशिशों पर चेतावनी दी। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों को जनता के समाने लाया जाएगा। उन्होंने कहा कि प्रदेश के लोग ऐसे मौका परस्त लोगों से भली-भांति परिचित है तथा यह लोग, लोगों के कल्याण के प्रति काम करने की बजाय अपने निजी हितों को पूर्ण करने में लगे रहते हैं।
    उन्होंने जन प्रतिनिधियों से लोगों के कल्याण के लिए समर्पण की भावना से कार्य करने का आहवान किया। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ समय में नालागढ़ व दून क्षेत्र में अभूतपूर्व विकास हुआ है। उन्होंने कहा कि एक समय था, जब क्षेत्र में पानी की भारी कमी थी तथा बेहतर शिक्षण व स्वास्थ्य संस्थान भी नहीं थे, लेकिन प्रदेश सरकार ने ऐसे क्षेत्रों की ओर विशेष ध्यान दिया तथा सिंचाई सुविधाआें के अतिरिक्त स्वास्थ्य संस्थानों को भी प्राथमिकता दी। 
    उन्होंने कहा कि भाजपा द्वारा प्रदेश में अनेक शिक्षण संस्थान खोलने के लिए राज्य सरकार की आलोचना की जा रही है, लेकिन भाजपा यह समझने में असमर्थ है कि बढ़ती जनसंख्या के कारण यह संस्थान खोलने आवश्यक हैं, तथा कांग्रेस सरकार भविष्य में लोगों की जरूरतों को भी ध्यान में रख रही है। उन्होंने कहा कि यह सिद्ध हो गया है कि कांग्रेस सरकार ही लोगों की सच्ची हितैषी है। लोगों के प्यार व सम्मान के कारण ही वह प्रदेश के छठीं बार मुख्यमंत्री बन पाए हैं। 
    उन्होंने पंजेरा में विधानसभा क्षेत्र के चंगर  क्षेत्र के पंजेरा में उप तहसील खोलने पर सैद्धांतिक सहमति दी। 
    पूर्व विधायक व हि.प्र. कांग्रेस समिति के कार्यकारी सदस्य लखविन्द्र राणा ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री की नालागढ़ विधानसभा क्षेत्र में किए गए अपार विकास कार्यों के लिए सराहना की। उन्होंने कहा कि विपक्ष के शासनकाल के दौरान हमेशा ही क्षेत्र की अनदेखी हुई है। उन्होंने कहा कि कृपालपुर में स्टेडियम का निर्माण किया जाएगा और अन्य विकास कार्यों की जानकारी दी। 
    अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड के अध्यक्ष हरदीप बावा ने मुख्यमंत्री का स्वागत किया तथा स्थानीय प्रधान द्वारा रखी गई मांगों का समर्थन किया। उन्होंने रामशहर में तहसील कार्यालय खोलने का आग्रह किया। उन्होंने वर्तमान सरकार के कार्यकाल के दौरान क्षेत्र में हुए अन्य विकास कार्यों की भी जानकारी दी। बावा ने मुख्यमंत्री का क्षेत्र में लगभग 76 करोड़ रुपये की विभिन्न विकास परियोजना के लोकार्पण करने के लिए आभार व्यक्त किया।
    रामशहर ग्राम पंचायत के प्रधान श्री वीरेन्द्र शर्मा ने इस अवसर पर क्षेत्र की कुछ मांगे मुख्यमंत्री के समक्ष रखी।
    उद्योग मंत्री श्री मुकेश अग्निहोत्री, विधायक श्री राम कुमार, कृषि उत्पाद विपणन बोर्ड के अध्यक्ष डॉ. सुभाष मंगलेट, हि. प्र. कांग्रेस समिति के महासचिव श्री विनोद सुल्तानपुरी, जिला कांग्रेस समिति सोलन के अध्यक्ष श्री राहुल ठाकुर, जिला परिषद अध्यक्ष धर्मपाल, एपीएमसी सोलन के अध्यक्ष श्री रमेश ठाकुर, हि. प्र. पर्यटन विकास निगम निदेशकमण्डल के सदस्य श्री सुरेन्द्र सेठी, राज्य पशुपालन बोर्ड के सदस्य श्री राजेन्द्र ठाकुर, उपायुक्त श्री राकेश कंवर तथा पुलिस अधीक्षक श्री बेशर सिंह व अन्य इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने किया 105.57 करोड़ की गड़ोग-घण्डल पेयजल आपूर्ति योजना का लोकार्पण
    39 पंचायतों की 82 हजार की आबादी को प्रदान करेगी पेयजल सुविधा
    मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री श्रीमती विद्या स्टोक्स के साथ आज शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र के सैंज में 105.57 करोड़ रुपये से निर्मित महत्वाकांक्षी गड़ोग-घण्डल पेयजल आपूर्ति योजना का लोकार्पण किया।
    शिमला ग्रामीण विधानसभा क्षेत्र में राज्य की सबसे बड़ी जल आपूर्ति योजना वर्ष 2033 तक क्षेत्र की 39 पंचायतों की 778 बस्तियों की लगभग 82 हजार की आबादी को पेयजल सुविधा प्रदान करेगी। योजना प्रतिदिन 7.00 मीलियन लीटर पानी लोगों को उपलब्ध करवाएगी। 
    योजना से लाभान्वित होने वाली पंचायतों में आनन्दपुर, बागी, बायचड़ी, बैंस, बठमाणा, चायली, चनोग, देवनगर, धमून, दुधाहल्टी, गलून, घणाहट्टी, घेच, हलोग, जलेल, नेहरा, नेरी, रामपुरी, शकराह, थड़ी, टूटू, मैहली, कोट, रझाणा, शामलाघाट, बलोह, ओखरू, चेबड़ी, शकरोड़ी, बसंतपुर, रियोग, घरयाणा, जूणी, मड़ोढघाट, चलाहल, थाची, कोटला, नेहरा तथा चनावग शामिल हैं। 
    इस महत्वाकांक्षी योजना की आधारशिला मुख्यमंत्री ने जनवरी, 2015 में रखी थी और यह अढ़ाई वर्षों की निर्धारित समय सीमा के भीतर बन कर तैयार हुई है।
    योजना के लिए सैंज नाला से मुख्य जलाशय तक पानी उठाने तथा पंचायतों को आगे इसके सुचारू वितरण के लिए मुख्यमंत्री ने दाड़गी में 9.95 करोड़ रुपये की लागत से 33केवी विद्युत उपकेन्द्र का भी लोकार्पण किया। बहुद्देशीय परियोजनाएं एवं ऊर्जा मंत्री श्री सुजान सिंह पठानिया भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
    दाड़गी में जनसभा को सम्बोधित करते हुए मुख्यमंत्री ने निर्धारित समय से पूर्व इस उपलब्धि के लिए सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग को बधाई देते हुए कहा कि यह योजना आने वाले समय में वरदान साबित होगी। उन्होंने कहा कि वह विकास तथा परियोजनाओं को इनके कार्यान्वयन से पहल अध्ययन करने पर विश्वास रखते हैं। उन्होंने कहा कि परियोजनाओं के लिए निर्धारित समय सीमा तथा लक्ष्यों को ध्यान में रखते हुए यदि अधिकारी सभी 68 विधानसभा क्षेत्रों में प्रतिबद्धता के साथ कार्य करे तो इसमें कोई संदेह नही कि हिमाचल प्रदेश तेजी के साथ प्रगति के पथ पर आगे बढ़ेगा। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि उन्होंने कभी भी विकास के मामले में क्षेत्रों के बीच किसी प्रकार का भेदभाव नहीं किया है। उन्होंने कहा कि विकास से व्यक्ति विशेष की खुशहाली सुनिश्चित होती है। 
    उन्होंने ग्राम पंचायत चनावग के मचरयाणा में पशु औषधालय खोलने की घोषणा की।
    राज्य युवा कांग्रेस के अध्यक्ष श्री विक्रमादित्य सिंह ने जनसमूह को सम्बोधित करते हुए लोगों को 24 घंटे पानी उपलब्ध करवाने वाली शिमला ग्रामीण की महत्वाकांक्षी जलापूर्ति योजना का निर्माण समय से काफी पहले पूरा करने के लिए सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य विभाग तथा यूनीपरो कम्पनी को बधाई दी। उन्होंने कहा कि शिमला ग्रामीण निर्वाचन सभा क्षेत्र राज्य का सर्वाधिक विकास विकसित विधानसभा क्षेत्र बन गया है। उन्होंने कहा कि दाड़गी में औद्योगिक प्रशिक्षण संस्थान का नया भवन तथा वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला भवन लोगों को शीघ्र समर्पित किया जाएगा। 
    उन्होंने कहा कि लोगों को विकास के नाम पर राजनीति नहीं करनी चाहिए और ऐसे लोगों से सचेत रहना चाहिए, जो गुमराह करने की कोशिश करते हैं।
    जिला परिषद की अध्यक्षा धर्मिला हरनोट, शिमला ग्रामीण ब्लॉक कांग्रेस समिति अध्यक्ष चन्द्रशेखर शर्मा, महिला कांग्रेस ब्लॉक कांग्रेस समिति की अध्यक्षा अनिता शर्मा, चलाहल ग्राम पंचायत के प्रधान चिरंजी लाल, पंचायत समिति बसंतपुर के अध्यक्ष प्रदीप वर्मा, पंचायत समिति मशोबरा की अध्यक्षा मीना, हि.प्र. राज्य औद्योागक विकास निगम निदेशक मण्डल के सदस्य प्रमोद शर्मा सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
     
    Read More
  • कामगार कल्याण बोर्ड वहन करेगा व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में चयनित कामगारों के बच्चों का खर्च
    हिमाचल प्रदेश भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार कल्याण बोर्ड सरकारी संस्थानों में एमबीबीएस, बी.टैक, एमबीए, एमसीए तथा एलएलबी पाठ्यक्रमों में चयनित  पंजीकृत कामगारों के बच्चों की शिक्षण फीस तथा रहने व खाने के सभी खर्चों का वहन करेगा। यह निर्णय उद्योग तथा श्रम एवं रोजगार मंत्री श्री मुकेश अग्निहोत्री की अध्यक्षता में आज यहां आयोजित बोर्ड की 33वीं बैठक में लिया गया।
    इस अवसर पर श्री अग्निहोत्री ने कहा कि हालांकि बोर्ड लाभार्थियों को शिक्षा के क्षेत्र में विभिन्न लाभ प्रदान कर रहा है, लेकिन यह निर्णय कामगारों के बच्चों को इन व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में चयनित होने के लिए प्रेरित करने में मददगार होगा।
    श्री अग्निहोत्री ने कहा कि निर्माण कामगारों को बेहतर एवं स्वास्थ्यवर्धक कार्य माहौल प्रदान करने के उद्देश्य से निर्माण स्थलों के समीप सचल शौचालयों की स्थापना की जाएगी। उन्होंने कहा कि बोर्ड इन शौचालयों के रख-रखाव के लिए किसी पेशेवर एजेंसी की सेवाएं आउटसोर्स करेगी। उन्होंने कहा कि बोर्ड निर्माण कामगारों को इंडक्शन, हीटर प्रदान कर रहा है। उन्होंने कहा कि यदि बोर्ड से पंजीकृत किसी निर्माण कर्मी के पास नियमित एलपीजी कनेक्शन नहीं है, तो बोर्ड उसे एक मुश्त लाभ के तौर पर चूल्हा तथा सिलेण्डर प्रदान करेगा, बशर्तें वह वांछित औपचारिकताएं पूर्ण करता हो।
    मंत्री ने कहा कि ऊना जिले के पलकवाह में 18 करोड़ रुपये की लागत से निर्माणाधीन कौशल विकास प्रशिक्षण संस्थान का कार्य लगभग पूरा होने वाला है और संस्थान निर्मित हो जाने के बाद यह पंजीकृत कामगारों, उनकी पत्नी व दो बच्चों को कौशल प्रशिक्षण प्रदान करेगा। 
    श्री अग्निहोत्री ने कहा कि बोर्ड द्वारा लाभार्थियों को प्रदान की जा रही साइकिलों की समयबद्ध आपूर्ति सुनिश्चित करने के लिए बोर्ड को समान्तरण दर संविदा पर और अधिक एजेंटों को हायर किया जाना चाहिए। उन्होंने कामगार वर्ग का कल्याण सुनिश्चित बनाने के लिए बोर्ड के अधिकारियों को समर्पण की भावना से कार्य करने के निर्देश दिए।
    हि. प्र. भवन एवं अन्य सन्निर्माण कामगार बोर्ड के अध्यक्ष बाबा हरदीप सिंह ने मुख्य अतिथि का स्वागत किया और बोर्ड द्वारा संचालित विभिन्न गतिविधियों पर प्रकाश डाला।
    बोर्ड के गैर सकरारी सदस्यों ने भी बैठक में अपने बहुमूल्य सुझाव दिए।
    बोर्ड की मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुश्री ज्योति राणा ने बैठक की कार्यवाही का संचालन किया।
    श्रम एवं रोजगार के विशेष सचिव कैप्टर जे.एम. पठानिया तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी बैठक में उपस्थित थे।
     
     
     
    Read More
  • राज्यपाल से नाबालिग हत्याकांड की सीबीआई जांच का आग्रह
    मदद् सेवा न्यास के एक प्रतिनिधिमण्डल ने आज राजभवन शिमला में राज्यपाल आचार्य देवव्रत से भेंट कर कोटखाई के राजकीय उच्च पाठशाला, बमकुफर की 10वीं की छात्रा की निर्मम हत्या की सी.बी.आई जांच की मांग की है। उन्होंने इस संबंध में राज्यपाल को ज्ञापन दिया तथा मामले की शीघ्र जांच का आग्रह किया।
    राज्यपाल ने कहा कि देवभूमि में हुआ यह जघन्य अपराध एक दुःखद घटना है। इस मामले में ठोस कार्रवाई की जाएगी ताकि आरोपियों को शीघ्र गिरफ्तार किया जा सके।
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने रखी हाटकोटी मन्दिर सराय भवन की आधारशिला
    हाटकोटी मन्दिर-विराट नगर बाईपास सड़क का किया लोकार्पण
    मुख्यमंत्री श्री वीरभद्र सिंह ने उनकी धर्मपत्नी एवं पूर्व सांसद श्रीमती प्रतिभा सिंह तथा राज्य युवा कांग्रेस अध्यक्ष श्री विक्रमादित्य सिंह के साथ आज शिमला जिला के हाटकोटी स्थित माता हाटेश्वरी मंदिर में पूजा-अर्चना की। उन्होंने 2.50 करोड़ रुपये की लागत से हाटकोटी मंदिर के जीर्णोद्वार तथा 2.25 करोड़ लागत से मंदिर के सराय भवन के दूसरे चरण के निर्माण की आधारशिलाएं भी रखी। डोरमैटरी सहित 12 कमरों के इस सराय भवन में 30 लोगों के ठहरने की व्यवस्था होगी।
    मुख्यमंत्री ने 2.15 करोड़ रूपये की लागत से निर्मित लंगर भवन तथा 13 लाख रूपये की लागत से निर्मित हाटकोटी मन्दिर से विराट नगर बाईपास सड़क का भी लोकार्पण किया।
    मुख्य संसदीय सचिव श्री रोहित ठाकुर, रोहड़ू के विधायक श्री मोहन लाल बराक्टा, हिमुडा के उपाध्यक्ष श्री यशवंत छाजटा, ब्लॉक कांग्रेस समिति के अध्यक्ष श्री ईश्वर दास छोहारू, हि.प्र.पर्यटन विकास निगम निदेशक मण्डल के सदस्य श्री रूपेश कंवल, एपीएमसी के अध्यक्ष श्री महेन्द्र स्तान सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
    Read More
Cabinet DecisionsView All कैबिनेट के फैसले सभी देखें
Features View All फ़ीचर सभी देखें
Flagship SchemesView Allफ्लैगशिप कार्यक्रम सभी देखें

Latest Video FootageView Allनवीनतम वीडियो फुटेजसभी देखें
Departments Productions View All विभाग प्रोडक्शंससभी देखें
Latest News PhotographsView Allनवीनतम समाचार फोटोसभी देखें
Digital Photo LibraryView All डिजिटल फोटो गैलरीसभी देखें
You Are Visitor No.हमारी वेबसाइट में कुल आगंतुकों 4989175