News Flash: समाचार फ़्लैश:
  • मुख्यमंत्री ने की सीएचसी लड़भड़ोल को सिविल अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा
  • प्रधानमंत्री 27 दिसम्बर को धर्मशाला में मेगा रैली की बढ़ाएंगे शोभा
  • सतत जल प्रबन्धन पर प्रथम अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन आयोजित
  • मुख्यमंत्री ने धर्मशाला रैली के प्रबन्धों की समीक्षा की
  • चिकित्सकों के पदों को भरने के लिए वॉक-इन-इंटरव्यू
  • दलाई लामा के कारण विश्व पर्यटन मात्रचित्र पर उभरा हिमाचल : मुख्यमंत्री
View Allसभी देखें
 Latest News
 नवीनतम समाचार
  • दलाई लामा के कारण विश्व पर्यटन मात्रचित्र पर उभरा हिमाचल : मुख्यमंत्री
    हिमाचल प्रदेश के लिए यह सौभाग्य की बात है कि महामहिम दलाई लामा ने निर्वासित तिब्बत सरकार के लिए हिमाचल प्रदेश को चुना है। 
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने यह बात आज निर्वासित तिब्बत सरकार की संसद द्वारा आयोजित जलपान समारोह में उपस्थित लोगों को सम्बोधित करते हुए कही। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि महामहिम दलाई लामा ने धर्मशाला को अपना घर चुना है, जिसके कारण यह दुनिया में पर्यटन आकर्षण का एक प्रमुख केन्द्र बनकर उभरा है। बड़ी संख्या में पर्यटक तथा दुनियाभर से आए उनके अनुयायी हर वर्ष धर्मशाला उनका आशीर्वाद लेने के लिए आते हैं, जिसके कारण धर्मशाला विश्व पर्यटन मानचित्र पर आया है। 
    जय राम ठाकुर ने कहा कि भारत और तिब्बत की संस्कृति व परम्पराएं एक समान हैं तथा यह विश्व शांति के आवश्यक है कि यह दोनों समुदाय बेहतर तालमेल के साथ कार्य करें। 
    निर्वासित तिब्बत सरकार की संसद के अध्यक्ष पैमा जंगने ने धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। उपाध्यक्ष येशी फुगसुक ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री तथा अन्य उपस्थित गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत किया।
    पूर्व, मुख्यमंत्री वीरभद्र सिंह, विधानसभा अध्यक्ष डॉ. राजीव बिन्दल, राज्य मंत्रिमण्डल के सदस्य और विधायकगण इस अवसर पर उपस्थित थे। 
     
    Read More
  • प्रधानमंत्री 27 दिसम्बर को धर्मशाला में मेगा रैली की बढ़ाएंगे शोभा
     
     प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी वर्तमान प्रदेश सरकार के एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर धर्मशाला में 27 दिसम्बर, 2018 को आयोजित होने वाली मेगा रैली की शोभा बढ़ाएंगे। मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने यह बात आज धर्मशाला में प्रस्तावित रैली स्थलों का निरीक्षण करने के उपरान्त पत्रकारों से बातचीत करते हुए कही।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि रैली के लिए एचपीसीए मैदान, पुलिस मैदान या सेल का स्टेडियम प्रस्तावित है। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा चलाई जा रही विभिन्न कल्याणकारी योजनाओं से लाभान्वित हुए हजारों लोग तथा बड़ी संख्या में  लोग इस रैली में भाग लेंगे और इसे एक ऐतिहासिक आयोजन बनाया जाएगा। उन्होंने कहा कि इस अवसर पर राज्य सरकार की एक वर्ष की उपलब्धियों पर प्रदर्शनी का आयोजन भी किया जाएगा। 
    जय राम ठाकुर ने कहा कि पार्टी कार्यकर्ता तथा प्रदेशभर से आए लोग रैली में भाग लेंगे और भाजपा राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह, भाजपा के राष्ट्रीय नेता, मंत्रीगण तथा प्रदेश के अन्य नेता इस अवसर की शोभा बढ़ाएंगे। 
    खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री किशन कपूर, स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार, राज्य भाजपा अध्यक्ष सतपाल सत्ती, मुख्य सचिव बी.के. अग्रवाल, अतिरिक्त मुख्य सचिव एवं मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव डॉ. श्रीकांत बाल्दी, अतिरिक्त मुख्य सचिव लोक निर्माण मनीषा नन्दा, अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन राम सुभग सिंह, अतिरिक्त मुख्य सचिव गृह मनोज कुमार, प्रधान सचिव ओंकार शर्मा, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुंडू तथा अन्य वरिष्ठ अधिकारी इस अवसर पर उपस्थित थे। 
    .
     

     

    Read More
  • मुख्यमंत्री ने की सीएचसी लड़भड़ोल को सिविल अस्पताल में स्तरोन्नत करने की घोषणा
    करोड़ों की पेयजल व सिंचाई योजनाओं के शिलान्यास व लोकार्पण  
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी ज़िला के जोगिन्द्रनगर के बनांदर में विशाल जनसमूह को संबोधित करते हुए सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र लड़भड़ोल को नागरिक अस्पताल में स्तरोन्नत करने तथा इसमें बिस्तरों की मौजूदा क्षमता को 30 से बढ़ाकर 50 करने की घोषणा की।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार प्रदेश में विकास की गति में तेजी लाने के लिए वचनबद्ध है ताकि निचले स्तर तक और अन्तिम छोर के व्यक्ति को विकास का लाभ पहुंच सके। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार प्रदेश के लोगों की विकासात्मक मांगों के प्रति सदैव ही विचारशील रही है। उन्होंने कहा कि केन्द्र तथा राज्य सरकार की मध्य बेहतर समन्वय के चलते राज्य करोड़ों रुपये की विकास परियोजनाओं को स्वीकृत करवाने में सफल रहा है।
    इससे पूर्व, जय राम ठाकुर ने लड़भड़ोल तहसील के खण्ड दं्रग/चौतड़ा की आंशिक रूप से कवर बस्तियों के लिए 32.84 करोड़ रुपये की लागत से पूरी होने वाली जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखी। यह योजना क्षेत्र की 253 बस्तियों के 39 हजार लोगों को लाभान्वित करेगी। उन्होंने 1.88 करोड़ रुपये व्यय कर पूरी की जाने वाली उठाऊ सिंचाई योजना डिबडियां, बीड़ू, जमथल व गौड़ा की भी आधारशिला रखी।
    उन्होंने कहा कि लड़भड़ोल में सीएसडी केन्टीन खोलने का मामला सेना अधिकारियों से उठाया जाएगा।
     मुख्यमंत्री ने कहा कि वह पिछले 21 वर्षों से राज्य विधानसभा में हैं, लकिन उन्होंने कभी भी किसी मुख्यमंत्री को राज्य बजट में 30 नई योजनाओं की घोषणा करते नहीं देखा। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार काम करने पर विश्वास करती है न कि पिछली सरकार की तरह बड़े-बड़े दावे करने पर। उन्होंने कहा कि पिछली राज्य सरकार ने अन्तिम कुछ महीनों के दौरान बिना किसी बजट प्रावधान के घोषणाएं की।
    मुख्यमंत्री को इस अवसर पर वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला हरी गंगा नन्दन के विद्यार्थियों ने 11000 रुपये और मैसर्ज युगवीर इन्फ्रास्ट्रक्चर प्राईवेट लिमिटेड ने 51000 रुपये का चैक मुख्यमंत्री राहत कोष के लिए भेंट किया। 
    सांसद राम स्वरूप शर्मा ने कहा कि राज्य सरकार ‘सबका साथ-सबका विकास’ के उद्देश्य के साथ काम कर रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश में मुख्यमंत्री के रूप में जय राम ठाकुर ने विकास की गति को नई दिशा प्रदान की है। उन्होंने क्षेत्र की विभिन्न विकासात्मक मांगें भी रखी।
    स्थानीय विधायक प्रकाश राणा ने क्षेत्र के लिए करोड़ों रुपये की विकासात्मक परियोजना की आधारशिलाएं रखने तथा लोकापर्ण के लिए मुख्यमंत्री का आभार व्यक्त किया। उन्होंने जोगिन्द्रनगर में सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मण्डल तथा पथ परिवहन निगम का डिपो खोलने की घोषणा के लिए भी मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। उन्होंने लड़भड़ोल क्षेत्र के लिए ब्रिक्स जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखने के लिए भी मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया।  
    सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर, स्वास्थ्य मंत्री विपिन सिंह परमार, विधायक राकेश जम्वाल, जवाहर ठाकुर, इन्द्र सिंह गांधी, मुलखराज प्रेमी तथा हीरा लाल, वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, ज़िला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, मुख्यमंत्री के ओएसडी महेन्द्र धर्माणी, मण्डी के उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे। 
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने की जोगिन्द्रनगर में एचआरटीसी डिपो और आईपीएच मण्डल की घोषणा
    लड़भड़ोग में आईटीआई और मकरैड़ी में उप-तहसील खोलने की घोषणाएं
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने आज मण्डी ज़िला के जोगिन्द्रनगर स्थित रीतु कलामंच में एक विशाल जनसभा को सम्बोधित करते हुए जोगिन्द्रनगर में हिमाचल पथ परिवहन निगम का डिपो तथा सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मण्डल खोलने की घोषणा की। 
    मुख्यमंत्री ने कहा कि वर्तमान राज्य सरकार राज्य के प्रत्येक क्षेत्र का सन्तुलित विकास तथा हर वर्ग का कल्याण सुनिश्चित कर रही है। उन्होंने कहा कि समाज के प्रत्येक वर्ग को लाभान्वित करने के लिए राज्य में अनेक योजनाएं आरम्भ की गई हैं। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने प्रदेश के लोगों को भ्रष्टाचारमुक्त तथा जिम्मेदार प्रशासन प्रदान किया है। उन्होंने कहा कि वर्तमान सरकार इस माह की 27 तारीख को एक वर्ष का कार्यकाल पूरा कर रही है और यह अवधि उपलब्धियों से भरी रही है। 
    जय राम ठाकुर ने कहा कि सरकार का एकमात्र लक्ष्य राज्य का सर्वांगीण विकास सुनिश्चित करना है। उन्होंने कहा कि मंत्रिमण्डल की पहली ही बैठक में सामाजिक सुरक्षा पेंशन प्राप्त करने के लिए आयु सीमा को बिना किसी आय सीमा के 80 वर्ष से घटाकर 70 वर्ष करने का निर्णय लिया। उन्होंने कहा कि अकेले इस निर्णय पर राज्य सरकार 250 करोड़ रुपये सालाना व्यय कर रही है। उन्होंने कहा कि यह एक ऐतिहासिक निर्णय है क्योंकि राज्य में पिछली सरकारें अपनी पहली मंत्रिमण्डल की बैठक में राजनीति से प्रेरित निर्णय लेती रही हैं।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि जन मंच राज्य सरकार का एक अन्य महत्वपूर्ण कार्यक्रम है जो प्रदेश के लोगों को उनकी शिकायतों के समाधान के लिए वरदान बनकर उभरा है। उन्होंने कहा कि राज्य के विभिन्न भागों में आयोजित किए गए जनमंच में लगभग 20 हजार शिकायतों का निपटारा किया गया है। उन्होंने कहा कि यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि विपक्ष के कुछ नेता हैलीकॉप्टर का उपयोग करने पर हो-हल्ला कर रहे हैं। उन्होंने इन नेताओं को याद दिलवाया कि वह हैलीकॉप्टर का उपयोग राज्य के विकास के लिए कर रहे हैं न कि अपने निजी उपयोग के लिए, जैसा कि पिछली सरकार के कार्यकाल में हुआ है।  
    जय राम ठाकुर ने कहा कि हाल ही में उन्होंने केन्द्रीय रेल मंत्री के साथ पठानकोट-जोगिन्द्रनगर रेल लाईन का हवाई सर्वेक्षण किया। उन्होंने कहा कि केन्द्रीय मंत्री ने आश्वासन दिया कि इस ट्रैक को स्तरोन्नत किया जाएगा ताकि पठानकोट-जोगिन्द्रनगर के बीच यात्रा अवधि को मौजूदा नौ घण्टे से कम करके छः घण्टे किया जा सके। उन्होंने कहा कि इस रूट पर पारदर्शी छत वाली कोच भी प्रदान की जाएंगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार मण्डी ज़िले के बल्ह क्षेत्र में अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण के प्रयास कर रही है।  
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने राज्य सरकार का एक वर्ष का कार्यकाल पूरा होने पर आयोजित किए जाने वाले समारोह में बतौर मुख्यातिथि आने के आग्रह को स्वीकार कर लिया है। उन्होंने कहा कि धर्मशाला में इस माह की 27 तारीख को एक विशाल समारोह आयोजित किया जाएगा। 
    मुख्यमंत्री ने अगले सत्र से माध्यमिक पाठशाला शोरू को उच्च पाठशाला तथा उच्च पाठशाला गलू को वरिष्ठ माध्यमिक पाठशाला में स्तरोन्नत करने की घोषणा की। उन्होंने लड़भड़ोल में आई.टी.आई. खोलने की घोषणा की। उन्होंने मकरेड़ी में उप तहसील खोलने तथा आयुर्वेद अस्पताल जोगिन्द्रनगर में 10 बिस्तरों की मौजूदा क्षमता को बढ़ाकर 30 बिस्तरों का करने की घोषणा की। उन्होंने गुम्मा में पशु औषधालय खोलने तथा निजी क्षेत्र के बी-फार्मा कॉलेज जोगिन्द्रनगर को अपनाने की घोषणा की। उन्होंने श्वान नसबंदी केन्द्र के लिए 15 लाख रुपये की घोषणा की। 
    इससे पूर्व, मुख्यमंत्री ने जोगिन्द्रनगर तहसील में 1.62 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित जलापूर्ति योजना शानन, द्रेहल, मकरैड़ी तथा चतरभुजा का लोकार्पण किया। यह योजना 11 गांवों के 4100 से अधिक लोगों को लाभान्वित करेगी। उन्होंने 1.44 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित 12 गांवों की लगभग 3000 की आबादी को लाभान्वित करने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना धोगों, पिपली और कुठेड़ा के संवर्द्धन का भी लोकार्पण किया।  
    मुख्यमंत्री ने 1.92 करोड़ रुपये की लागत से निर्मित होने वाली बहाव सिंचाई योजना असा-रोपा-हर और जिमजिमा कूहल तथा 76.21 लाख रुपये की लागत से आंशिक रूप से कवर बस्तियों गदूही व भौरा के लिए बनने वाली उठाऊ जलापूर्ति योजना की आधारशिला रखी।
    इस अवसर पर मुख्यमंत्री को अनेक सामाजिक, राजनैतिक तथा सामाजिक संगठनों ने सम्मानित किया।
    सिंचाई एवं जन स्वास्थ्य मंत्री महेन्द्र सिंह ठाकुर ने कहा कि मण्डी के लोगों के लिए यह ऐतिहासिक अवसर है कि मण्डी से पहली बार मुख्यमंत्री चुने गए हैं। उन्होंने कहा कि मण्डी ज़िले में 10 विधायकों में से नौ भाजपा के हैं और 10वां भी भाजपा से सम्बद्ध है। उन्होंने कहा कि केन्द्र सरकार ने राज्य के लिए 4751 करोड़ रुपये की सिंचाई परियोजना स्वीकृत की हैं। यह परियोजना वर्ष 2020 तक किसानों की आय को दोगुना करने में सहायक सिद्ध होगीं। उन्होंने कहा कि राज्य के निचले क्षेत्रों में बागवानी विकास के लिए प्रदेश को 1688 करोड़ रुपये की बागवानी परियोजना स्वीकृत की गई है।  
    सांसद राम स्वरूप शर्मा ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी की उदारता तथा राज्य सरकार के प्रभावी पक्ष के कारण 11 माह की इस छोटी-सी अवधि के दौरान राज्य के लिए करोड़ों रुपये की केन्द्रीय परियोजनाएं स्वीकृत की गई हैं।  
    पूर्व मंत्री गुलाब सिंह ठाकुर ने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम के कुशल नेतृत्व में प्रदेश प्रगति व खुशहाली के पथ पर तेजी के साथ आगे बढ़ रहा है। उन्होंने कहा कि ऐसा पहली बार हुआ है जब मुख्यमंत्री द्वारा बजट में 30 नई योजनाओं की घोषणा की गई है। उन्होंने कहा कि यह योजनाएं समाज के प्रत्येक वर्ग के कल्याण के लिए आरम्भ की गई हैं। उन्होंने मुख्यमंत्री द्वारा आज समर्पित जलापूर्ति योजनाएं क्षेत्र में पानी की समस्या का समाधान करने में सहायक सिद्ध होंगी। 
    स्थानीय विधायक प्रकाश राणा ने अपने गृह निर्वाचन सभा क्षेत्र में मुख्यमंत्री तथा अन्य गणमान्य व्यक्तियों का स्वागत करते हुए कहा कि जोगिन्द्रनगर के लोगों को मुख्यमंत्री से बहुत-सी अपेक्षाएं हैं क्योंकि क्षेत्र पिछले कई वर्षों से विकास के मामले में उपक्षित रहा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर के नेतृत्व में प्रदेश सरकार राज्य के चहुंमुखी व संतुलित विकास के लिए कृतसंकल्प है। उन्होंने क्षेत्र के लिए आधारशिलाएं रखने तथा अनेक परियोजनाओं के लोकार्पण के लिए मुख्यमंत्री का धन्यवाद किया। उन्होंने क्षेत्र की विकासात्मक मांगों का ब्यौरा भी दिया।
    ज़िला भाजपा महासचिव पंकज जमवाल ने मुख्यमंत्री का स्वागत करते हुए कहा कि जोगिन्द्रनगर क्षेत्र पिछली राज्य सरकार के कार्यकाल के दौरान उपेक्षित रहा है। 
    विधायक राकेश जमवाल, जवाहर ठाकुर, इन्द्र सिंह गांधी और हीरा लाल, मिल्कफैड के अध्यक्ष निहाल चन्द शर्मा, वक्फ़ बोर्ड के अध्यक्ष राजबली, ज़िला भाजपा अध्यक्ष रणवीर सिंह, मुख्यमंत्री के ओएसडी महेन्द्र धर्माणी, मण्डी के उपायुक्त ऋग्वेद ठाकुर सहित अन्य गणमान्य व्यक्ति भी इस अवसर पर उपस्थित थे। 
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने वन स्वीकृतियों के लिए हिमाचल को क्षेत्रीय कार्यालय चण्डीगढ़ के अधीन लाने का आग्रह किया
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने वन स्वीकृतियां प्राप्त करने में सुगमता के दृष्टिगत केन्द्र सरकार से हिमाचल प्रदेश को क्षेत्रीय कार्यालय देहरादून के बजाय क्षेत्रीय कार्यालय चंडीगढ़ के अंतर्गत लाने का आग्रह किया है।  
    मुख्यमंत्री आज यहां पर्यावरण, केन्द्रीय वन एवं जलवायु परिवर्तन मंत्रालय के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ आयोजित बैठक की अध्यक्षता कर रहे थे। केन्द्रीय मंत्रालय के दल की अगुवाई वन महानिदेशक और विशेष सचिव सिद्धांत दास ने की।
    जय राम ठाकुर ने राज्य सरकार के पास निहित एक हेक्टेयर तक एफसीए मंजूरी के लिए अनुमोदन देने की सीमा बढ़ाने का भी आग्रह किया। उन्होंने कहा कि इस सीमा को दस हेक्टेयर तक बढ़ाया जाना चाहिए ताकि विकास की गति तेज हो सके।
    मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रदेश में बन्दरों की समस्या विकराल रूप धारण कर चुकी है, जिसका सबसे ज्यादा नुकसान किसानों को उठाना पड़ रहा है। वर्तमान में बन्दरों को लगभग 38 तहसीलों और उप-तहसीलों में पीड़क जन्तु घोषित किया गया है परन्तु राज्य के अधिकतर हिस्सों में बन्दरों की समस्या जारी है।
    उन्होंने केन्द्र सरकार से प्रदेश की 53 और तहसीलों व उप-तहसीलों में बन्दरों को पीड़क जन्तु घोषित करने का आग्रह किया ताकि किसानों को बन्दरों के उत्पात से राहत मिल सके।
    मुख्यमंत्री ने केन्द्रीय मंत्रालय से यह भी आग्रह किया कि रज्जू मार्गों की तारों के नीचे आने वाली भूमि को एफसीए से छूट दी जाए ताकि पर्यटकों और राज्य के लोगों को सुविधा मिल सके। 
    अतिरिक्त मुख्य सचिव राम सुभग सिंह, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुंडू, प्रधान मुख्य अरण्यपाल वन अजय कुमार व अन्य वरिष्ठ अधिकारी भी इस अवसर पर उपस्थित थे।
     
     
     
    Read More
  • मुख्यमंत्री ने मण्डी में प्रस्तावित हवाई अड्डे का किया हवाई सर्वेक्षण
     
    मुख्यमंत्री जय राम ठाकुर ने भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण तथा राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारियों की टीम सहित आज मण्डी जिला के बल्ह में प्रस्तावित अन्तरराष्ट्रीय हवाई अड्डे के निर्माण स्थल के लिए हवाई सर्वेक्षण किया।
    विस्तृत परियोजना रिपोर्ट तैयार करने से पूर्व टीम ने हवाई जहाज उतारने की संभावना तथा रास्ते में आने वाली संभावित बाधाओं का विश्लेषण किया। विस्तृत परियोजना रिपोर्ट केन्द्रीय नागरिक उडड्यन मंत्रालय को प्रस्तुत की जाएगी। यह परियोजना न केवल क्षेत्र में पर्यटन गतिविधियों को बढ़ावा देगी, बल्कि सुरक्षा की दृष्टि से भी बहुत महत्वपूर्ण होगी क्योंकि हिमाचल प्रदेश, जनजातीय जिलों लाहौल-स्पिति तथा किन्नौर से चीन के साथ सीमाओं को सांझा करता है।
    अतिरिक्त मुख्य सचिव पर्यटन राम सुभग सिंह, मुख्यमंत्री के अतिरिक्त प्रधान सचिव संजय कुण्डू, भारतीय विमानपत्तन प्राधिकरण के प्रतिनिधि सुभाष तथा रोहित सहित अन्य लोग भी इस अवसर पर मौजूद रहे। 
     
     
    Read More
Cabinet DecisionsView All कैबिनेट के फैसले सभी देखें
Features View All फ़ीचर सभी देखें
Latest Video FootageView Allनवीनतम वीडियो फुटेजसभी देखें
Departments Productions View All विभाग प्रोडक्शंससभी देखें
Latest News PhotographsView Allनवीनतम समाचार फोटोसभी देखें
Digital Photo LibraryView All डिजिटल फोटो गैलरीसभी देखें
You Are Visitor No.हमारी वेबसाइट में कुल आगंतुकों 7348328

Nodal Officer: UC Kaundal, Dy. Director (Tech), +919816638550, uttamkaundal@gmail.com

Copyright ©Department of Information & Public Relations, Himachal Pradesh.
Best Viewed In Mozilla Firefox