News
 

   20th September 2022

उप महानिदेशक (डीडीजी), भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) भावना गर्ग आईएएस, ने आधार प्रगति पर की समीक्षा बैठक

हमीरपुर 20 सितम्बर - उप महानिदेशक (डीडीजी), भारतीय विशिष्ट पहचान प्राधिकरण (यूआईडीएआई) भावना गर्ग आईएएस, ने जिला प्रशासन अधिकारियों के साथ जिला हमीरपुर में आधार प्रगति पर समीक्षा बैठक की। बैठक की अध्यक्षता करते हुए उन्होंने विशेष रूप से 0-5 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चों के लिए आधार नामांकन पूरा करने पर जोर दिया। इसके लिए स्कूलों में आधार नामांकन शिविरों का आयोजन किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि आंगनबाड़ी केंद्रों में 0-5 वर्ष की आयु वर्ग को कवर करने के लिए विशेष आधार नामांकन अभियान भी चलाया जा सकता है। उन्होंने  टीकाकरण शिविरों और बर्थ यूनिटों में इंडिया पोस्ट पेमेंट बैंकों द्वारा नामांकन को आगे बढ़ाने पर भी जोर दिया।
             उन्होंने कहा कि जिले को 5 और 15 वर्ष की आयु वर्ग के बच्चों के लिए बायोमेट्रिक अपडेट अनिवार्य है और इस पर पूरा ध्यान केंद्रित करने की आवश्यकता है। उन्होंने बताया कि बॉयोमीट्रिक अपडेशन नि:शुल्क है। यदि आधार धारक द्वारा निर्धारित आयु प्राप्त करने के 2 वर्ष के भीतर बायोमेट्रिक्स को अपडेट नहीं किया जाता है, तो आधार निष्क्रिय हो सकता है। उन्होंने कहा कि जो भी आधार केन्द्र बनाए गए हैं उन आधार केंद्रों का आवश्यक निरीक्षण करें। उन्होंने कहा कि आपसी समन्वय से इस कार्य को पूर्ण करने के लिए प्रयास किए जाएं। उन्होंने कहा कि आधार के नामांकन और अपडेशन से संबंधित किसी भी प्रकार की धोखाधड़ी करने वालों के खिलाफ उचित कार्रवाई की जाए।
           उन्होंने बताया कि आधार कार्ड में पता, नाम में अपडेट / सुधार, जन्म तिथि, लिंग सही करने  के लिए शुल्क 50 रुपये और बायोमेट्रिक अपडेट के लिए यानी आधार शुल्क में फोटोग्राफ या आईरिस या उंगलियों के निशान को अपडेट करने के लिए 100 रुपये शुल्क है। उन्होंने बताया कि अधिक शुल्क लेने के मामले में 1947 (टोल फ्री) पर शिकायत दर्ज कर सकते हैं। उन्होंने कहा कि व्यक्ति अपने मोबाइल फोन पर एम आधार भी डाउनलोड कर सकते हैं जो उन्हें न केवल अपने मोबाइल फोन पर आधार रखने की अनुमति देता है बल्कि कई ऑनलाइन आधार सेवाओं का लाभ उठाने में भी मदद मिलती है। उन्होंने बताया कि एम आधार ऐप भी निवासी को आधार में अपने बायोमेट्रिक्स को लॉक करने की अनुमति भी है।
     उन्होंने बताया कि आधार के लिए नामांकन/अपडेशन करते समय निवासी को अपने विवरणों की सावधानीपूर्वक जांच करनी चाहिए क्योंकि आधार में नाम, जन्म तिथि और लिंग जैसे विवरणों को अपडेट करने की एक सीमा है। उन्होंने बताया कि आधार में नाम दो बार अपडेट किया जा सकता है, जन्म तिथि और लिंग एक बार सही किया जा सकता है।
      बैठक में सहायक आयुक्त पवन कुमार, डीआरओ देवी राम, जिला कार्यक्रम अधिकारी हुकम चंद, उप निदेशक उच्च शिक्षा बीडी शर्मा,डा0 संजय जगोता, जिला अग्रणी बैंक के मुख्य प्रबन्धक संतोष सिन्हा के अतिरिक्त अन्य अधिकरी उपस्थित रहे।
-0-

 

 

You Are Visitor No.हमारी वेबसाइट में कुल आगंतुकों 10863237

Nodal Officer: UC Kaundal, Dy. Director (Tech), +919816638550, uttamkaundal@gmail.com

Copyright ©Department of Information & Public Relations, Himachal Pradesh.
Best Viewed In Mozilla Firefox