News
 

   Chamba5th March 2021

सहूलियत के लिए कोरोना वैक्सीनेशन के लिए करवाएं पूर्व पंजीकरण- उपायुक्त

सहूलियत के लिए कोरोना वैक्सीनेशन के लिए करवाएं पूर्व पंजीकरण- उपायुक्त 

 
स्वयं पंजीकरण न कर सकने वालों के लिए स्थापित होंगे हेल्पडेस्क 
 
जिला मुख्यालय पर खुलेंगे 4 हेल्पडेस्क 
 
जिले के सभी सिविल अस्पतालों में भी हेल्प डेस्क स्थापित करने के निर्देश 
 
अपरिहार्य स्थिति में कोरोना वैक्सीन की दूसरी डोज़ के लिए बदलवाई जा सकती है तारीख और जगह 
 
आगामी 15 अप्रैल तक आवंटित हो जाएंगे वैक्सीनेशन के सेशन
 
तय किए गए विभागों के फ्रंटलाइन वर्कर वैक्सीनेशन के लिए आएं आगे 
 
जिले में 94000 से ज्यादा कोरोना के सैंपल एकत्रित
 
चम्बा, 4 मार्च- उपायुक्त डीसी राणा ने कहा कि अब लक्षित वर्गों के लिए कोरोना वैक्सीन पूरी तरह से उपलब्ध है ऐसे में लोग कोरोना वैक्सीनेशन के महत्व को पूरी गंभीरता से समझते हुए वैक्सीनेशन के लिए आगे आएं। उपायुक्त ने यह बात आज उपायुक्त कार्यालय सभागार में आयोजित जिला स्तरीय टास्क फोर्स की बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही। उन्होंने कहा कि जिन लोगों को यह वैक्सीन दी जाएगी यदि वे इसके लिए पूर्व पंजीकरण करेंगे तो ना केवल उनके लिए सहूलियत होगी बल्कि वैक्सीनेशन के कार्य को अंजाम देने वाली टीमों के लिए भी आसानी रहेगी और वैक्सीनेशन का कार्य बिना किसी व्यवधान के समय पर संपन्न हो सकेगा। 
बैठक के दौरान ये फैसला भी लिया गया कि जो व्यक्ति स्वयं ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करने में असमर्थ रहेंगे उनके लिए जिले में हेल्प डेस्क स्थापित किए जाएंगे। उपायुक्त ने  बताया कि जिला मुख्यालय पर चार हेल्पडेस्क होंगे। जिनमें मुख्य चिकित्सा अधिकारी कार्यालय, मेडिकल कॉलेज अस्पताल रिसेप्शन काउंटर, जिला आयुर्वेद अस्पताल और नगर परिषद कार्यालय में शुरू किए जाने वाले हेल्प डेस्क शामिल हैं। इसी तरह जिला के सभी सिविल अस्पतालों के अलावा नगर परिषद डलहौजी में भी हेल्प डेस्क काम करेंगे। उपायुक्त ने कहा कि खंड स्तरीय टास्क फोर्स की बैठकों का आयोजन किया जाए ताकि जमीनी स्तर पर कार्यान्वित होने वाली रणनीति को अंतिम रूप दिया जा सके। हेल्प डेस्क काउंटर पर पंजीकरण की सेवा देने वाले कर्मियों को आवश्यक प्रशिक्षण भी दिया  जाना सुनिश्चित बनाया जाए। उपायुक्त ने यह भी कहा कि विभिन्न विभागों के फ्रंट लाइन वर्करों में होने वाली वैक्सीनेशन की दर कुछ क्षेत्रों में बहुत कम है जिसे बढ़ाना आवश्यक है। उपायुक्त ने कहा कि शेष सभी फ्रंटलाइन वर्कर वैक्सीनेशन के लिए आगे आएं। उपायुक्त ने उम्मीद जताते हुए कहा कि जन जागरूकता और सभी के समन्वय से वैक्सीनेशन के इस लक्ष्य को चंबा जिला में हासिल किया जाएगा। 
मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ राजेश गुलेरी ने जानकारी देते हुए बताया कि पहली डोज़ के बाद यदि व्यक्ति अपरिहार्य परिस्थिति के चलते दूसरी डोज़ लेने के लिए तय स्थान पर मौजूद नहीं रह सकता तो वह ऑनलाइन अपने सेशन की तारीख और जगह को बदलवा भी सकता है। उन्होंने कहा कि वैक्सीनेशन की पहली डोज़ की तारीख के बाद 28 दिन पूरे होने पर दूसरी डोज़ लगवानी प्रोटोकॉल के मुताबिक अत्यंत आवश्यक है। उन्होंने कहा कि आगामी 15 अप्रैल तक वैक्सीनेशन के सभी सैशन आवंटित हो जाएंगे। बैठक के दौरान मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने जिले में चल रहे कोरोना वैक्सीनेशन कार्यक्रम को लेकर विस्तार से जानकारी साझा की। उन्होंने जिले में कोरोना की ताजा स्थिति के आंकड़े प्रस्तुत करते हुए कहा कि जिले में अब तक 94784 सैंपल टेस्ट किए जा चुके हैं। इनमें से 2982 मामले पॉजिटिव पाए गए। उन्होंने यह भी बताया कि मौजूदा समय में जिले में केवल 7 ही एक्टिव मामले हैं। 
बैठक में जिला टीकाकरण अधिकारी डॉ जालम भारद्वाज व खंड चिकित्सा अधिकारियों के अलावा उच्च शिक्षा उपनिदेशक देवेंद्र पाल, क्षेत्रीय परिवहन अधिकारी ओंकार सिंह, जिला आयुर्वेद अधिकारी डॉ अनिल गर्ग, 
डलहौजी नगर परिषद अधिकारी राखी कौशल, उप जिला शिक्षा अधिकारी हितेंद्र कुमार और जिला स्तरीय टास्क फोर्स से जुड़े अन्य विभागीय अधिकारियों ने भी भाग लिया।
----------

You Are Visitor No.हमारी वेबसाइट में कुल आगंतुकों 3651600

Nodal Officer: UC Kaundal, Dy. Director (Tech), +919816638550, uttamkaundal@gmail.com

Copyright ©Department of Information & Public Relations, Himachal Pradesh.
Best Viewed In Mozilla Firefox